Tuesday, 1 September 2020

10 lines on camel in Hindi

10 lines on camel in Hindi


10 lines on camel in Hindi

  1. ऊंट एक रेगिस्तान में रहने वाला जानवर है।
  2. यह एक पालतू जानवर है।
  3. ऊंट एक शाकाहरी जानवर है जो घास -फूस और पत्तियां आदि खाता है।
  4. यह एक चौपाया जानवर है।
  5. इसके पेट के ऊपर एक कूबड़ होता है।
  6. ऊंट रेतीले इलाकों में बड़ी तेज़ दौड़ चल सकता है।
  7. इसके पैर गद्देदार होते हैं जो इन्हे रेत में चलने में मदद करते हैं।
  8. इसे रेगिस्तान का जहाज भी कहा जाता है।
  9. यह कई दिनों तक बिना पानी पिए चल सकता है।
  10. ऊंट की गर्दन बहुत लम्बी होती है किन्तु इसकी पूँछ छोटी सी होती है।

10 Lines on Camel in Hindi ऊंट पर निबंध           


  1. ऊँट  एक ऐसा जानवर है यो अपनी कूबड़ की वजय से पहचाना जाता है। ऊँट रगिस्तान के इलाकों में कई - कई दिनों तक बिना पानी के रह सकता है।
  2. ऊँट की दो प्रजातियाँ पाई जाती हैं पहली प्रजाति एक कूबड़ बाला ऊँट यो अरब में पाए जाते हैं और दूसरी प्रजाति जिसके दो कूबड़ होते हैं यो पूर्वी एशिया में पाए जाते हैं।
  3. ऊंट रेगिस्तान के इलाकों में बोझ ढ़ोने का एक प्रमुख साधन है। परन्तु आजकल यातायात के साधन होने पर ऊंटों से बहुत कम काम लिया जाता है।
  4. ऊँट की औसतन आयु 40 से 50 वर्ष तक की होती है।
  5. एक ऊंट के कूबड़ तक की उंचाई 7 फीट के लगभग होती है।
  6. रेगिस्तान में एक ऊँट 65 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से दोड़ सकता है।
  7. ऊंट सर्दियों में 2 महीनो तक बिना पानी के रह सकते हैं।
  8. ऊँट रोजाना पानी नहीं पीता। ऊँट एक बार में 100 से 150 लीटर तक पानी पी सकता है। ऊँट का प्रमुख्य आहार पेड़ों की हरी पत्तियां हैं।
  9. ऊंट को कभी भी पसीना नहीं आता क्योंकि इसकी मोटी चमड़ी सूर्य की किरणों को रिफ्लेक्ट करती है।
  10. ऊंट  अरबियन कल्चर में एक एहम भूमिका निभाते हैं अरबियन भाषा में ऊँट के लिए 160 से अधिक शब्द हैं।
  11. ऊँट को रेगिस्तान का जहाज़ भी कहा जाता है क्योंकि वह रेगिस्तान में आसानी से चल और दौड़ सकता है ।
  12. ऊंट (Camel) के तकरीवन 34 दांत होते हैं।
  13. ऊँट की कूबड़ में पानी की मात्रा न के सामान होती है बल्कि ऊँट की कूबड़ में पूरे शरीर की चर्वी जमा होती है यह चर्वी उसे गर्मी से बचाने में मदद करती है।
  14. ऊंट  की तीन पलकें होती हैं। जिसके कारण रेगिस्तान में चलने बाली तेज़ हवाओं और धुल मिटटी से उसकी रक्षा करती हैं।
  15. ऊँटों की देखने और सुनने की शक्ति बहुत तेज़ होती है ।
  16. जन्म से ही ऊंट के बच्चों के कूबड़ नहीं होते ।
  17. एक ऊंटनी 12 से 14 महीनो के अंदर एक बच्चे को जन्म देती हैं तो इसका वजन 80 पौंड तक होता है और बच्चा बिल्कुल सफ़ेद रंग का होता है । जन्म के कई घंटे बीतने के बाद ही ऊंटनी का बच्चा खड़ा हो पाता है ।


निवेदन : जानकारी अच्छी लगी तो कृपा Share और Comment करना मत भूलें क्योंकि आप लोगों का एक प्रयास हमें ऐसे ही उत्साहित Articles लिखने के लिए उत्साहित करता रहेगा - धन्यवाद

Essay on Camel in Hindi | ऊंट पर निबंध
_______________________ 

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: