Tuesday, 1 September 2020

बढ़ती जनसंख्या पर निबंध Badhti Jansankhya Essay in Hindi

बढ़ती जनसंख्या विश्वभर की सबसे बड़ी समस्या है किन्तु भारत के लिए तो यह एक गंभीर समस्या बन चुकी है। यदि बढती हुई जनसंख्या पर कोई लगाम न लगाई गयी तो यह एक दिन दुनिया के विनाश का कारण जरूर बनेगी।

जनसंख्या के बढ़ते हुए सैलाब के कारण जल और प्रकृति के दुसरे संसाधन धीरे धीरे खत्म हो रहे हैं इनका तेज़ी से प्रयोग हो रहा है जाहिर सी बात है जितनी कोई चीज़ ज्यादा और तेज़ी से इस्तेमाल होगी वह खत्म भी जल्दी ही होगी।

Badhti Jansankhya Essay in Hindi


पिछले कुछ वर्षों में जनसंख्या में बहुत तेज़ी से वृद्धि हुई है आज हमारे देश में पहले से ही बेरोजगारी की समस्या है सोचिये अगर जनसंख्या इसी तरह बढती चली गयी तो इतने सारे लोगों को रोजगार कैसे मिलेगा।
कुछ लोगों का तो मानना है बच्चे पैदा होना भगवान की देन है किन्तु उन्हें समझाने की सख्त आवशयकता है के बच्चे पैदा करना हमारे खुद के हाथ में होता है।

एक अनुमान के अनुसार सन 2050 तक भारत की जनसंख्या 12 अरब से भी ज्यादा हो जाएगी। पूरे विश्वभर में सबसे अधिक जनसंख्या वाला देश चीन है एक अनुमान के अनुसार अगले कुछ वर्षों के पश्चात भारत की जनसंख्या भी चीन से ज्यादा हो जाएगी क्योंकि भारत की जनसंख्या बढ़ी तेज़ी से बढ़ रही है।
आज हमें सख्त जरूरत है के ‘हम दो हमारा एक’ इस वाक्य को सत्य कर दिखाने की। यदि जनसंख्या इसी प्रकार बढती चली गयी तो हर इंसान को अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए बहुत ज्यादा संघर्ष करना पड़ेगा जीने के संसाधनों में कमी हो जाएगी और जनसंख्या तो तेज़ी से बढ़ रही है किन्तु रहने के लिए जगह नहीं क्योंकि प्रकृति के साधन सीमत हैं

दोस्तों जनसंख्या में बृद्धि के बहुत सारे कारण हो सकते हैं जैसे अशक्षित होना जिस कारण लोगों को अपने परिवार के प्रति ज्यादा जानकरी नहीं होती वह बच्चे पैदा करते रहते हैं इसीलिए जनसंख्या को कम करने में शिक्षा का प्रसार ज्यादा से ज्यादा होना चाहिए जिससे लोग शिक्षित हो सकें और अपने फैसलों पर आगे जाकर उन्हें पछताना न पड़े।

हमारे देश में बाल विवाह की प्रथा आज भी चलती आ रही है इस पर सख्त कानूनी रोक लगा देनी चाहिए। आज भी हमारे समाज में लोग यौन सबंध से सबंधित दूसरों से बातें करना शर्म समझते हैं यौन सबंधी जानकारी न होने के कारण लोग असमय और ज्यादा बच्चे पैदा कर देते हैं। इसके इलावा टेलीविज़न और सोशल साइट्स के माध्यम से लोगों को जनसंख्या शिक्षण सबंधी जागरूक किया जा सकता है।
Read Related Essays :

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: