Wednesday, 2 September 2020

Essay on Dahej Pratha in Hindi दहेज प्रथा पर निबंध

Essay on Dahej Pratha in Hindi दहेज प्रथा पर निबंध

दहेज़ प्रथा अज के युग की सबसे बुरी और कलंकित प्रथा है। जे एक ऐसा जहर है जो धीरे धीरे समाज को जहरीला बना रहा है। आज के आधुनिक युग में यह प्रथा अभिशाप के रूप में बड़ी तेज़ी से फ़ैल रही है।
पुराने समय में इसका चेहरा कुछ और ही था उस वक्त कन्या के माता -पिता कन्या के जीवन की शुभकामना करते हुए उसे कुछ उपहार भेंट किया करते थे किन्तु जिस भावना के साथ इस प्रथा को चलाया गया था वह आज के समाज के लिए एक अभिशाप बन चुकी है। आज प्रतिदिन यह समाचार सुनने को मिल जाते होंगे के दहेज़ के भूखों ने एक और नववधू जिसके हाथों की मेहँदी तक नहीं उतरी थी दहेज न मिलने के कारण आग के हवाले कर दिया।

Essay on Dahej Pratha in Hindi

सरकार ने तो दहेज प्रथा के खिलाफ कई सख्त कानून बनाए है ता जो इस प्रथा पर लगाम लगाई जा सके दहेज देना जा माँगना दोनों को ही अपराध की श्रेणी में रखा हुआ है और कई वर्ष की सजा जा फिर जुर्माने का कानून बना हुआ है पर फिर भी चोरी छुपे यह धंधा कानून की धज्जियां उड़ाता नजर आता है।

दहेज़ प्रथा को रोकने के उपाय -

  • लडकियों को चाहिए के जिस घर में उसकी शादी हो रही हो और वहां दहेज़ की मांग ई जा रही हो तो ऐसी शादी के लिए अपना स्वीकृति न दें
  • एक लड़का होने के नाते आपको बिना दहेज़ के शादी करके आदर्श प्रस्तुत करना चाहिए।
  • लोगों के बीच लड़का लड़की के समानता के महत्व को उन्हें समझाना होगा।
  • सरकार को इस प्रथा को रोकने के लिए कड़े से कड़े कानून का सहारा लेना होगा।
  • दुल्हन ही दहेज़ है ये नारा सब तक पहुंचाना होगा तभी इस कलंक को दूर कर सकते हैं।

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: