Wednesday, 2 September 2020

Paragraph on Elephant in Hindi : हाथी पर निबंध

Paragraph on Elephant in Hindi

Paragraph on Elephant in Hindi

हाथी धरती पर विचरण करने वाला सबसे बड़ा जानवर है। हाथी की संसारभर में दो प्रजातियां पायी जाती हैं एशियाई हाथी और अफ्रीकन हाथी। अफ्रीकी हाथी अफ्रीका के अधिकांश हिस्सों में पाया जाता है। सहारा और सवाना में सबसे अधिक अफ्रीकी हाथी पाए जाते हैं और यह हाथी समूह में रहना पसंद करते हैं। अफ्रीकी हाथी एशियाई हाथी से बड़ा और भारी होता है।

एशियाई हाथी भारत , श्रीलंका , थाईलैंड , चीन के कुछ हिस्सों में पाया जाता है। हाथी जंगल में अपना सीमा क्षेत्र बनाता है और समूह में रहता है। हाथी के कानों के बीच में सिर के दोनों तरफ़ त्वचा के नीचे ग्रंथियां होती हैं जिसमें विशेष प्रकार का तरल पदार्थ निकलता रहता है जिससे यह अपना सीमा क्षेत्र बनाता है।

हाथी के शरीर का रंग गहरा भूरे रंग का होता है और इसकी त्वचा मोटी होती है शरीर पर बाल बहुत कम होते हैं। हाथी अपनी सूंड की मदद से भोजन करता है नहाता है और अपने शरीर पर कीचड़ आदि डालता है। हाथी एक दिन में 150-200 लीटर तक पानी पी जाता है। हाथी की सूंड का वजन 120 से 140 किलोग्राम तक होता है।
हाथी के मूंह के पास सूंड की दोनों तरफ़ बड़े -बड़े बाहरी दांत होते हैं जो केवल नर हाथी के ही होते हैं। हाथी के जीवन में गजदांतों का विशेष महत्व है ये इसकी बहुत मदद करते हैं इन्ही से यह शिकारियों से लड़ता है और अपनी रक्षा करता है।

हाथी की दृष्टि सामान्य होती है परन्तु हाथियों के सूंघने की शक्ति बहुत अधिक होती है ये पानी की गंध को 5 किलोमीटर तक से भी सूंघ लेता है। हाथी खड़ा -खड़ा सो जाता है इसके इलावा यह लेटकर भी सोता है। जंगल में यह बहुत कम लेटकर सोता है क्योंकि जंगल में शिकारियों का खतरा बना रहता है।

हाथी एक पूर्ण रूप से शाकाहारी जंगली जानवर है जिसका प्रमुख्य भोजन पेड़ों की पत्तियां , फल -फूल तथा कई प्रकार की जंगली वनस्पतियां आदि है। हाथी दिन का ज्यादातर समय भोजन करने में ही व्यतीत कर देते हैं। अक्सर हाथियों का झुण्ड भोजन की तलाश में दूर -दूर तक निकल जाता है और लम्बे समय के बाद ही अपनी पहली वाली जगह लौटता है।
हाथी (Elephant) एक बहुत अच्छा तैराक भी है यह प्रतिदिन स्नान करता है हाथी को पानी में लोट -पोट होना बहुत अच्छा लगता है। हाथी का प्रजनन काल मार्च महीने से शुरू हो जाता है और मई महीने तक चलता है। समागम का इच्छुक नर मादाओं के समूह में चला जाता है और समागम के लिए तैयार मादा की तलाश करता है। समागम के दौरान कई बार दो हाथी आपस में भिड जाते हैं दोनों में जबरदस्त लड़ाई होती है यह लड़ाई बड़ी भयानक होती है अंत कई घंटों की लड़ाई के बाद एक नर हाथी को हार माननी पडती है और वे भाग निकलता है और विजेता मादा के साथ सम्भोग का आनंद उठाता है। हथिनी का गर्भकाल समय 22 महीनों का होता है।

हाथी पर निबंध |Essay on elephant in Hindi

हाथी दुनिया में पाया जाने वाला सबसे भारी जानवर है। यह एक चौपाया जानवर है जिसकी एक लंबी सूंड होती है जिसकी मदद से यह से भारी चीज को भी बड़ी आसानी से उठा लेता है। हाथी अपनी इसी लंबी सूंड की मदद से ही भोजन जा फिर पानी अपनी सूंड में भरकर अपने मुंह में डालता है। इसका पूरा शरीर विशालकाय होता है। हाथी एक शाकाहारी जीव है जो पेड़ों की पत्तियां घास आदि खाता है।

हाथी स्वभाव से बड़ा ही शांत जानवर होता है किंतु यदि इन्हें गुस्सा आ जाए तो यह भारी मात्रा में तबाही मचाता है। यह एक स्लेटी रंग का जानवर होता है जिसके दो बड़े दांत होते हैं जो के बाहर की तरफ निकले होते हैं। हाथी को स्नान करना बेहद प्रिय होता है। गर्मी के दिनों में अक्सर हाथियों को ज्यादातर जल स्रोतों में नहाते हुए देखा जा सकता है। हाथियों के देखने की क्षमता थोड़ी कम जरूर होती है किंतु इनके सुनने और सूंघने की क्षमता दूसरे जानवरों से ज्यादा होती है हाथी पानी की गंध को 3 किलोमीटर से भी महसूस कर सकता है और हल्की सी आहट भी इन्हें सुनाई दे देती है।

हाथी अपने दिन का ज्यादातर समय खाने में ही बिता देते हैं हालांकि यह बहुत कम सोते हैं यह दिन में लगभग 3 या 4 घंटों के लिए ही सोते हैं। इनके शरीर की चमड़ी 1 इंच तक मोटी होती है। एक हाथी की औसतन आयु 60 वर्ष से लेकर 80 वर्षों तक होती है।

अन्य लेख 
  1. शेर पर निबंध
  2. जिराफ पर निबंध
  3. हंस पर निबंध

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: