Wednesday, 2 September 2020

Pigeon essay in Hindi | कबूतर पर निबंध

Pigeon essay in Hindi | कबूतर पर निबंध

Pigeon essay in Hindi



कबूतर संसार भर में पाया जाने वाला एक सुंदर पक्षी है इसे संसार का सबसे प्राचीन पालतू पक्षी भी कहा जा सकता है। यह पक्षी आकाश में 5000 फीट से भी अधिक की ऊंचाई पर उड़ सकते हैं। इनके उड़ने की क्षमता 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की होती है। जंगल में रहने वाले कबूतरों की आयु 6 से लेकर 8 वर्ष तक होती है किंतु घरेलू कबूतर इससे कुछ वर्ष ज्यादा भी जीवित रह सकते हैं।

पुराने समय में लोग चिट्ठी को एक जगह से दूसरी जगह पहुँचाने के लिए कबूतरों का इस्तेमाल किया करते थे और कबूतर बड़ी आसानी से इन्ही संदेशों को सही जगह पहुंचा देते थे। इसके अलावा दूसरे विश्वयुद्ध के समय भी कबूतर का इस्तेमाल किया गया जिन्हें जंगी कबूतर के नाम से भी जाना जाता है। यह पक्षी एक बुद्धिमान होता है यह अपने आप को दर्पण में भी पहचान सकता है। दूसरे पक्षियों से कबूतर की याद रखने की क्षमता बड़ी ही तेज होती है यह सैंकड़ों किलोमीटर की दूरी को भी नहीं भूलते।

कबूतर आमतौर पर झुंड में रहना पसंद करते हैं खासतौर पर इन्हें झुंड में ही देखा जा सकता है संसार भर में इन पक्षियों की बहुत सारी प्रजातियां देखने को मिलती है भारत में ज्यादातर गोला कबूतर और चीनी कबूतर मिलता है, जिन का रंग सफेद और सलेटी रंग का होता है। कबूतर के पंजे इस तरह होते हैं कि जो किसी भी पेड़ की शाखाओं को आसानी से पकड़ सकते हैं।

Related Articles :
कबूतर के बारे में जानकारियां
चिड़िया (गौरया) पर निबंध 

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: