Tuesday, 1 September 2020

Save Wild Animals Essay in Hindi जीव जंतु संरक्षण पर निबंध

Save Wild Animals Essay in Hindi जीव जंतु संरक्षण पर निबंध

Save Wild Animals Essay in Hindi

मानव जाति का पशु -पक्षियों एवं अन्य जीव जंतुओं के साथ गहरा सबंध है। पालतू पशुओं से हमें दूध मिलता है। दूध से दूसरे पदार्थ दहीं, मट्ठा, मक्खन, घी, पनीर आदि प्राप्त होते हैं। यह सभी पदार्थ हमारी खाद्य समग्री के महत्वपूर्ण भाग हैं। पशुओं के प्राप्त गोबर भी खेतों में खाद्य के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। बैल, भैंसा आदि पशुओं का कृषि कार्य में अत्यंत मह्त्वपूर्ण स्थान है।

कुछ पशु जैसे हाथी, घोडा ऊंट, गधा, याक आदि सवारी ढोने तथा बोझ ढोने के काम आते हैं।युद्ध के अवसर भी उनका उपयोग होता है। कुछ पशु जैसे बंदर, भालू सर्प हमारे मनोरंजन का साधन बनते हैं। बया पक्षी अपने घौंसले का निर्माण करते हुए हमें सुंदर भवन निर्माण करने की प्रेरणा देते हैं। कुछ पशु -पक्षियों का उपयोग औषधि निर्माण कार्य में किया जाता है। कुछ पशु -पक्षी मृत्यु के पश्चात भी अपने चमड़े, हड्डियां एवं पंखों के द्वारा मनुष्य जाती पर उपकार करते हैं।

दुःख की बात यह है के ऐसे उपयोगी पशु -पक्षियों का मानव संहार करने पर तुला हुआ है। आज संसार के 70 प्रतिशत लोग मांसाहारी बने हुए हैं। लाखों गाय, बकरी, भेड़ें और भैंसे आदि प्रतिदिन मानव का शिकार हो रहे हैं। इस प्रकार जीव -जंतुओं की तो पूरी की पूरी नस्ल को ही खाकर मानव जाति ने समाप्त कर दिया है।
पिछली सदी में मॉरीशस  नामक पक्षी की पूरी की पूरी नस्ल ही मनुष्य ने खाकर नष्ट कर दी है। वेद में सैंकड़ों मंत्रों द्वारा मनुष्य जाति को उपदेश दिया गया है के वह पशु -पक्षियों को बचाने में अपना योगदान दें। पशुओं की नस्ल सुधारने, उनकी आयु बढ़ाने और उन्हें स्वास्थ्य रखने के लिए प्रयत्न करता रहे। जीव -जंतुओं के लिए भी स्वच्छ पानी की प्रबंध किया जाए।

संसारभर के जंगलों में अलग -अलग प्रजातियों के जीव पाए जाते हैं यहां रहकर ही उन्हें भोजन प्राप्त होता है किन्तु अब मानव ने अपने लालच के लिए इन्ही जंगलों को नष्ट करना शुरू कर दिया है जिस कारण जंगली जीवों का अस्त्तिव भी खतरे में मंडरा रहा है कुछ जीवों -जंतुओं की प्रजातियां तो पूरी तरह से विलुप्त हो चुकी हैं। बाघ को उनकी खाल के लिए मार दिया जाता है और हाथियों को उनके दांत के लिए और अन्य जानवरों को मांस आदि के लिए शिकार किया जाता है।

इसीलिए आज हमारा कर्तव्य है के हम इन जीव -जंतुओं की रक्षा के लिए आगे आएं हम वनों को नष्ट होने से बचाएं अधिक से अधिक पेड़ -पौधे लगाएं और जानवरों के शिकार पर पाबंधी होनी चाहिए।

More Essays

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: