Tuesday, 1 September 2020

Thomas Alva Edison Essay in Hindi : महान वैज्ञानिक थोमस अल्वा एडिसन पर निबंध

Thomas Alva Edison Essay in Hindi

थॉमस अल्वा एडिसन का जन्म 11 फरबरी 1847 को अमेरिका में हुआ था एडिसन को बचपन में मंद बुद्धि का माना जाता था एडिसन को बचपन में यूनिफार्म की वजह से स्कूल से निकाल दिया जाता था क्योंकि गरीवी के वजह से उनके पास यूनिफार्म खरीदने के पैसे नहीं थे .इसीलिए उनकी माँ ने उनको घर में पढाने का निश्चय किया।

Thomas Alva Edison Essay in Hindi


थॉमस अल्वा एडिसन का बचपन गरीबी बीता। गरीबी के बावजूद भी एडिसन ने अपनी पढ़ाई और वैज्ञानिक प्रयोग करने जारी रखे। बिजली के बल्ब का अविष्कार थॉमस अल्वा एडिसन के द्वारा किया गया था।
बिजली का बल्ब बनाने में वह 1000 बार असफल हुए थे परन्तु फिर भी उन्होंने हार नहीं मानी और बिजली का बल्ब बनाकर ही दिखाया।

मात्र 9 वर्ष की आयु में उन्होंने अपनी पहली प्रयोगशाला खोल ली थी। एक बार थॉमस ट्रैन में सफर कर रहे थे और उनके कुछ रसायन नीचे गिर गए और डब्बे में आग लग गयी गुस्से में आकर ट्रैन के कंडक्टर ने उन्हें कान पर ज़ोर से थप्पड़ मारा जिससे थॉमस के सुनने की क्षमता बहुत कम हो गयी।

थप्पड़ का थॉमस को बिल्कुल भी दुख नहीं हुआ बल्कि वह तो खुश थे के अब उसे फ़ालतू की आवाज़ें सुनाई नहीं देंगी और वो अपना काम बिना किसी रोक टोक के कर सकेंगे।
एडिसन अपनी प्रयोगशालामे तकरीवन 18 घंटों तक काम करते थे।

SHARE THIS

Author:

EssayOnline.in - इस ब्लॉग में हिंदी निबंध सरल शब्दों में प्रकाशित किये गए हैं और किये जांयेंगे इसके इलावा आप हिंदी में कविताएं ,कहानियां पढ़ सकते हैं

0 comments: